ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
भूमि रिकार्ड का रियल टाईम ऑनलाइन डिजिटलाईजेशन होगा, तकनीकी समस्या दूर करने हेतु वेब जीआईएस सेल का गठन
February 26, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

उज्जैन। प्रदेश के समस्त जिलों के साथ-साथ उज्जैन जिले में वेब जीआईएस साफ्टवेयर लागू कर दिया गया है। इस साफ्टवेयर का उद्देश्य किसानों को ऑनलाइन भूमि रिकार्ड का वितरण एवं भूमि रिकार्डों का रियल टाईम अपडेटेशन करना है। इस साफ्टवेयर के माध्यम से भूमि रिकार्डों का नई तकनीक द्वारा प्रभावी संधारण किया जा सकता है। वेब जीआईएस साफ्टवेयर में आने वाली तकनीकी समस्याओं के निराकरण के लिये जिला स्तर पर वरिष्ठ तकनीकी टीम को तैनात कर वेब जीआईएस सेल का गठन कर दिया गया है।
अधीक्षक भू-अभिलेख सुश्री प्रीति चौहान ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उज्जैन जिले में वेब जीआईएस सेल ने 26 फरवरी से कार्य करना प्रारम्भ कर दिया है। यह सेल तकनीकी कार्य सम्पादित करेगा एवं समस्याओं के निराकरण हेतु राजस्व विभाग में पदस्थ वरिष्ठ अधिकारियों से समन्वय स्थापित करेगा। इस सेल के माध्यम से भू-अभिलेखों का ऑनलाइन अद्यतन, गिरदावरी जिसमें फसल बोवनी के क्षेत्रफल की गणना, भू-अभिलेख कार्यों का मोबाइल एप द्वारा क्रियान्वयन, पीएम किसान सम्मान निधि योजना, साइबर रिकार्ड रूम जिसमें भू-अभिलेखों का डिजिटलाईजेशन, डिजिटल नकल प्रदान करना, फसल कटाई के प्रयोग के डाटा एकत्रित करना तथा फसल की उत्पादकता की गणना आदि कार्य में सहयोग करेगा एवं तकनीकी समस्या दूर करेगा।