ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
FIR आपके द्वार योजना के Piolet Project का शुभारंभ
May 11, 2020 • EDITOR • उज्जैन शहर

उज्जैन। आज दिनांक 11.05.2020 को माननीय गृहमंत्री महोदय डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा पुलिस मुख्यालय भोपाल में ’’ FIR आपके द्वार’’ योजना के Piolet Project का शुभारंभ किया गया । शुभारंभ में पुलिस महानिदेशक महोदय श्री विवेक जौहरी पुलिस मुख्यालय भोपाल सहित पुलिस विभाग के अन्य आला अधिकारी उपस्थित रहे । इस योजना का उद्देष्य हैं कि रिस्पान्स टाईम को कम किया जा सके एवं पीड़ित को थाने तक जाने में होने वाली परेशानी से बचाया जा सके ताकि उसके मन में पुलिस एवं व्यवस्था के प्रति विशवास में वृद्धि हेतु एवं ज्यादा से ज्यादा फरियादियों को इस योजना का लाभ मिल सके। पायलेट प्रोजेक्ट की मानिटरिंग पुलिस अधीक्षक के अलावा संबंधित जिले के अति0 पुलिस अधीक्षक एसडीओपी/सीएसपी स्तर के अधिकारी करेंगे। डायल 100 में सउनि/प्रआर0 स्तर के अधिकारी रहेंगे जो लेपटाप के माध्यम से कनेक्ट कर एफआईआर की कार्यवाही की जावेगी । 
  जोनल स्तर पर पुलिस महानिरीक्षक उज्जैन जोन उज्जैन श्री राकेश गुप्ता साहब द्वारा पुलिस कंट्रोलरूम पर डायल 100 एफआरव्ही गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर ’’ FIR आपके द्वार’’ के Piolet Project का शुभारंभ किया गया। शुभारंभ के दौरान पुलिस उप महानिरीक्षक उज्जैन रेंज उज्जैन श्री मनीष कपूरिया, पुलिस अधीक्षक उज्जैन श्री मनोज कुमार सिंह, एवं अन्य पुलिस अधिकारीगण उपस्थित थे । 
  पुलिस महानिरीक्षक महोदय श्री राकेश गुप्ता ने बताया कि सर्वप्रथम शहर थाना चिमनगंज में 02 एफआरव्ही एवं देहात थाना बड़नगर में 01 डायल 100 एफआरव्ही वाहन को संचालित किया जावेगा। पुलिस महानिरीक्षक महोदय ने बताया कि एफआरव्ही वाहन के द्वारा मौके पर पहुंचने पर यदि कोई संज्ञेय अपराध (गंभीर अथवा संवेदनशील अपराधों को छोड़कर ) की सूचना पर मौके पर ही अपराध पंजीबद्ध किया जावेगा । यदि घटना गंभीर अपराध अथवा संवेदनशील प्रकृति की हो तो एफआरव्ही वाहन का बल थाना प्रभारी को तत्काल सूचना देंगे तथा थाना द्वारा शीघ्र एफआईआर दर्ज करने की कार्यवाही की जावेगी । डायल 100 वाहन के द्वारा शिकायतकर्ता के घर एवं मौके पर (घटना स्थल पर ) पहुंचकर एफआईआर दर्ज की जावेगी ताकि पीड़ित को किन्ही परेशानियों एवं समस्याओं का सामना ना करना पड़े। थाने से एफआरव्ही में पदस्थ कर्मचारी/अधिकारी को इंटरनेट युक्त कम्पयूटर/लेपटाप/टेबलेट दिया जावेगा जिससे सीसीटीएनएस को एक्सेस किया जा सकता है।