ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
ग्राम पंचायत लालाखेड़ा के पटवारी कभी समय पर गांव में नहीं आते थे, पेंशन प्रकरणों का भी निराकरण समय पर नहीं किया, कलेक्टर ने लगाई फटकार, बोले सही ढंग से काम नहीं कर सकते तो घर पर बैठो
February 13, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

तराना के ग्राम गुराड़िया गुर्जर में परी के डेरे में विशेष ग्राम सभा आयोजित

उज्जैन। गुरुवार को तराना विकासखंड के क्लस्टर गुराडिया गुर्जर में ग्राम सभाएं आयोजित की गईं। गुराडिया गुर्जर के समीप परी के डेरे में तराना विधायक श्री महेश परमार, कलेक्टर श्री शशांक मिश्र व विभिन्न विभागों के अधिकारियों द्वारा ग्रामीणजनों के बीच पहुंचकर विशेष ग्रामसभा आयोजित की गई और उनकी समस्याओं का निराकरण निर्धारित समयावधि में करने के निर्देश दिए गए।
विधायक श्री महेश परमार ने इस दौरान ग्रामीणजनों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के कुशल मार्गदर्शन में विशेष ग्राम सभाओं और आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के माध्यम से ग्रामीणजनों की कई वर्षों पुरानी समस्याओं का निराकरण किया जाता है। जनप्रतिनिधि और अधिकारी खुद ग्रामीणजनों के बीच पहुंचकर उनकी समस्याओं का निराकरण करते हैं।
मध्य प्रदेश सरकार जनहितैषी सरकार है, शासकीय प्रक्रियाओं में अधिक से अधिक पारदर्शिता लाए जाने का काम हमने किया है। ग्रामीणजनों की समस्त समस्याओं का निराकरण समय-सीमा में किया जाएगा। विशेष ग्राम सभाओं में ग्रामीणों से संवाद स्थापित कर उनकी समस्याओं का निराकरण करने का यह प्रयास अत्यंत सराहनीय है। विधायक श्री परमार ने कहा कि फसल नुकसान का सबसे अधिक मुआवजा पूरे प्रदेश में तराना विकासखंड के किसानों को मिला है। लोगों के बिजली के बिल सरकार द्वारा आधे किए गए हैं। वृद्धावस्था पेंशन की राशि भी बढ़ाई गई है। सरकार द्वारा शीघ्र ही यह योजना भी बनाई जा रही है कि वाहन द्वारा सड़क दुर्घटना होने पर निजी अस्पतालों में हितग्राहियों का इलाज पूर्णतः निशुल्क किया जाएगा।
मध्य प्रदेश सरकार ने जो भी वचन दिए थे उन्हें पूरा करके बताया है। ग्राम परी का डेरा में स्थित भगवान देवनारायण मंदिर का विकास भी तेज गति से किया जाएगा। विधायक श्री परमार ने अपील की कि ग्रामीणजनों की जो भी समस्याएं हों वे विशेष ग्राम सभाओं में नि:संकोच होकर उन्हें अधिकारियों को बताएं ताकि उनका निराकरण शीघ्र-अतिशीघ्र किया जा सके।
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री अजीत सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज क्लस्टरवाइस पंचायतों में विभिन्न विशेष ग्राम सभाएं आयोजित की गई हैं, जिनमें ग्रामीणजनों की समस्याओं का निराकरण तत्काल मौके पर किया जाता है।
ग्राम पंचायत लालाखेड़ा के कई लोगों ने आवेदन देकर शिकायत की कि पंचायत के कई लोगों को वृद्धावस्था पेंशन समय पर उपलब्ध नहीं करवाई जा रही है। पटवारी द्वारा पेंशन प्रकरणों का निराकरण समय पर नहीं किया जा रहा है। हितग्राहियों को पेंशन के लिए चक्कर लगाते-लगाते 2 से 3 साल हो चुके हैं। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने इस पर ग्राम लालाखेड़ा के पटवारी को तलब किया और कड़ी फटकार लगाई। कलेक्टर ने कहा कि वृद्धावस्था पेंशन में आवेदन की कोई आवश्यकता नहीं है। जितने भी पेंशन प्रकरण लंबित हैं, उनका निराकरण तत्काल किया जाए। कलेक्टर ने पटवारी से कहा कि यदि तुमसे सही ढंग से काम नहीं हो रहा है, तो घर पर बैठो। ग्रामीणों ने यह भी शिकायत की कि पटवारी समय पर कभी पंचायत में भी नहीं आते हैं। कलेक्टर ने इस पर पटवारी के 2 इंक्रीमेंट रोके जाने के निर्देश दिए। साथ ही यह भी कहा कि यदि पटवारी द्वारा नामांतरण बंटवारे के प्रकरण अनावश्यक लंबित रखे जा रहे हैं तो उनकी सेवा समाप्ति कर दी जाए। कलेक्टर ने पटवारी से कहा कि वह अगले 15 दिनों के अंदर कलेक्टर कार्यालय में उनके समक्ष आकर अब तक उन्होंने क्या-क्या कार्य किए हैं, इसका पूरा ब्यौरा दें।
लालाखेड़ा के आंगनवाड़ी भवन में एक अत्यंत कुपोषित बालक लव गुर्जर काफी समय से भर्ती नहीं कराया गया था। कलेक्टर ने इस पर आंगनबाड़ी केंद्र की सीडीपीओ पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि एनआरसी के अंतर्गत बालक को भर्ती क्यों नहीं किया गया है। कलेक्टर ने सीडीपीओ के दो इंक्रीमेंट रोकने के निर्देश दिए। ग्राम लालाखेड़ा में पानी की समस्या के निराकरण के लिए पीएचई विभाग को तुरंत कार्रवाई करने के लिए कहा। जिन हितग्राहियों के बीपीएल कार्ड बनवाए जाना है, उनकी पात्रता की जांच करने के निर्देश दिए।
शंकरपुरा में तालाब निर्माण हेतु शीघ्र-अतिशीघ्र कार्य प्रारंभ करने के लिए कहा। कलेक्टर ने ग्राम गुराडिया गुर्जर क्लस्टर में आने वाली विभिन्न ग्राम पंचायतों के अंतर्गत ग्रामीणजनों की समस्याओं की सुनवाई तो की ही साथ में परी के डेरे में उपस्थित विशेष ग्राम सभा के स्थल पर मौजूद ग्रामवासियों से सामान्य समस्याओं और विभिन्न विभागों से संबंधित समस्याओं के बारे में भी पूछा।
कलेक्टर ने ग्रामीणों से पूछा कि आपके यहां पटवारी समय पर आते हैं या नहीं, फसल नुकसान का मुआवजा मिला है या नहीं, नामांतरण बंटवारा आदि प्रकरण बकाया तो नहीं है, नामांतरण बंटवारे के ऐसे प्रकरण तो नहीं है, जिन्हें 2 महीने से अधिक समय हो गया है, पटवारी अनावश्यक परेशान तो नहीं करते हैं। खसरे में आदेश के बावजूद कहीं ऐसा तो नहीं है कि पटवारी द्वारा आदेश का अमल नहीं किया जा रहा है। गुराड़िया गुर्जर निवासी नारायण पिता देवीसिंह ने कहा कि उनके स्वामित्व की कृषि जमीन 20 वर्ष गलती से सरकारी जमीन के नाम पर चढ़ गई है। इस वजह से उन्हें बहुत परेशानी हो रही है। कलेक्टर ने कहा कि 2016 में जो भी पटवारी रहे, उन पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही नारायण को यह आश्वासन दिया कि अगले 7 दिनों के अंदर आपका कार्य कर दिया जाएगा। कलेक्टर ने ग्रामीणजनों से पूछा कि कोई ऐसी विधवा महिला तो नहीं है जिन्हें पेंशन नहीं मिल रही है। यदि है तो अवगत कराएं, संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को ग्राम पंचायतों के तहत स्कूलों में जाकर समय-समय पर निरीक्षण करने के निर्देश दिए एएनएम द्वारा समय पर दवाई और टीकाकरण किया जा रहा है या नहीं इस बारे में गांव वालों से पूछा कलेक्टर ने ग्रामवासियों से कहा कि ऐसे किसान जिन्हें प्याज का भाव अंतर नहीं मिला है तथा फसल नुकसान का पैसा नहीं मिला है, वह सर्वर में समस्या के कारण हो रहा है। अगले चार-पांच दिनों में पैसा मिलना प्रारंभ हो जाएगा। ऐसे गांव जहां सोसाइटीज नहीं है, वहां पटवारी जाकर किसानों की सूची बनाएंगे। ग्राम गुराडिया गुर्जर निवासी सिद्धू पिता गंगाराम ने आवेदन दिया कि ग्राम परी के डेरे में शौचालय का निर्माण करवाया जाए। ग्राम मंथली निवासी माधव सिंह ने शिकायत की कि गांव में विद्युत का पुल काफी समय से नहीं है। कलेक्टर ने इस पर एमपीईबी के अधिकारियों को तत्काल विद्युत पोल लगाए जाने के निर्देश दिए। मोया गांव निवासी बाबूलाल ने आवेदन दिया कि गांव में पक्की पुलिया अब तक नहीं बनाई गई है, जिस वजह से ग्रामीणजनों को आवागमन में बहुत परेशानी होती है। साथ ही वहां विद्युत पोल भी नहीं है। कलेक्टर ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए। एमपीईबी के अधिकारियों को तलब किया कि विद्युत पोल और खुले तारों की समस्या कई गांव में आ रही है, अतः समस्त ऐसे ग्राम जहां विद्युत संबंधित शिकायतें हैं मां अगले 15 दिनों मैं प्राथमिकता से कार्य करें और कार्य करने के पश्चात उन्हें फोटो उपलब्ध कराएं ग्राम पंचली निवासी चंदरसिंह ने अंजली नाले पर स्टॉप डेम बनवाए जाने के लिए निवेदन किया। कलेक्टर ने इस पर जिला पंचायत को मौका निरीक्षण कर कार्य कराने के निर्देश दिए। ग्राम गुराडिया गुर्जर निवासी शिवराम ने आवेदन देकर शिकायत की कि उन्हें पिछले 4 महीनों से राशन उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। कलेक्टर ने तत्काल खाद्य विभाग के अधिकारी को तलब कर शिवराम को राशन तुरंत उपलब्ध कराने के लिए कहा। माकड़ोन के निवासियों ने आवेदन दिया कि माकड़ोन के शासकीय महाविद्यालय में अतिथि विद्वान समय पर नहीं आती है। इस वजह से बच्चों को पढ़ाई में बहुत नुकसान हो रहा है। कलेक्टर ने इस पर संबंधित अधिकारी को पूरे मामले की जांच करने के निर्देश दिए। ग्राम मोया में निर्मल नीर योजना के अंतर्गत सरकारी जमीन पर सरकारी कुआं खुदवाये जाने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए, ताकि गांव में पानी की समस्या दूर हो सके। ग्राम बोरखेड़ी निवासी बनेसिंह ने आवेदन दिया कि सरली रोड से एक मार्ग बनवाया जाए। ग्राम गुराडिया गुर्जर में सार्वजनिक तालाब बनाए जाने के लिए सीईओ जिला पंचायत को निर्देश दिए। गांव में बिजली के तार लोगों के घरों के ऊपर से जा रहे थे, जिस वजह से निरंतर दुर्घटना की आशंका बनी हुई थी। कलेक्टर ने एमपीईबी के अधिकारियों को तुरंत तार वहां से हटवाए जाने के निर्देश दिए। ग्राम गुराडिया गुर्जर में मुख्य मार्ग से लेकर शमशान तक पक्की सड़क बनाए जाने के लिए कहा। ग्राम परी का डेरा में पानी का समस्या दूर करने के लिए बोरिंग कराए जाने का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। ग्राम कुंडालिया में तोलाराम ने शिकायत की कि उनकी कृषि भूमि शासकीय रिकॉर्ड में ऑनलाइन दर्ज नहीं की जा रही है। कलेक्टर ने इसे 24 घंटे में दुरुस्त करने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत सालनाखेड़ी निवासी शिवलाल पिता उमराव सिंह ने आवेदन दिया कि उनका फौती नामांतरण नहीं किया जा रहा है। कलेक्टर ने इस पर पटवारी के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए तथा पटवारी की एक वेतन वृद्धि रोकने के लिए कहा। बाबूलाल पिता कालू सिंह ने आवेदन दिया कि संबल योजना में पंजीयन होने के बावजूद उन्हें प्रसूति सहायता योजना की राशि उपलब्ध नहीं कराई गई है। कलेक्टर ने इस पर सीएमएचओ को तत्काल मामले की जांच कर मामले का निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने ग्राम सालाखेड़ी में हरिजन मोहल्ले में पेयजल की व्यवस्था करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। ग्राम बेलछी में पुलिया निर्माण  करने और पानी की समस्या दूर करने के लिए बोरवेल खुदवाये जाने के निर्देश दिए। साथ ही वहां हाईस्कूल खुलवाए जाने के लिए भी अधिकारियों को विधिवत प्रस्ताव बनाने के लिए कहा। हाईस्कूल के लिए जगह चिन्हित करने के निर्देश दिए गए। बताया गया कि ग्राम बेलछी में पंचायत भवन भी नहीं है। इस पर पंचायत भवन का प्रस्ताव तैयार करने के लिए कहा। ग्राम पंचायत कड़ोदिया में मजरे टोले में बाजना तालाब और लाल तालाब मैं पानी की टंकी का निर्माण किए जाने के निर्देश दिए। साथी पानी की समस्या को दूर करने के लिए कुआं खुदवाने के लिए कहा। कड़ोदिया निवासी मदनलाल ने आवेदन दिया कि उन्हें किसान सम्मान निधि का पैसा अब तक प्राप्त नहीं हुआ है। कलेक्टर ने उक्त राशि का भुगतान शीघ्र-अतिशीघ्र किए जाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों द्वारा जानकारी दी गई कि यहां गौशाला का निर्माण भी काफी समय से रुका हुआ है। साथ ही ग्रिड की भी काफी आवश्यकता है। कलेक्टर ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को तत्काल मौके पर जाकर निरीक्षण करने और प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत  कतवारिया में शौचालय निर्माण के लिए अधिकारियों को कहा। कतवारिया में बीपीएल पेंशन हितग्राहियों की शीघ्र-अतिशीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए। विशेष ग्राम सभा के दौरान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा ग्रामीणजनों को जल जीवन मिशन की जानकारी विस्तारपूर्वक दी गई। कलेक्टर और विधायक श्री महेश परमार ने जल जीवन मिशन जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया उल्लेखनीय है कि यह रथ जिले के विभिन्न समस्त ग्रामों में जाकर किसानों को और आम जनता को जल जीवन मिशन के बारे में जागरूक करेगा। इस दौरान एसडीएम तराना श्री गोविंद दुबे, जिला पंचायत की श्रीमती कीर्ति मिश्रा, सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री अजीत सिंह और विभिन्न विभागों के अधिकारीगण मौजूद थे।