ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
गृह मंत्री ने खाचरौद में नवीन आईटीआई भवन का लोकार्पण एवं बालक एवं कन्या छात्रावास भवन का भूमि पूजन किया
February 11, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

निवेशकों के द्वारा प्रदेश में करोड़ों रुपये के निवेश लगना शुरू, इनमें प्रदेश के 70 प्रतिशत बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा,
 
उज्जैन। प्रदेश के गृह, जेल, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास मंत्री बाला बच्चन ने आज मंगलवार 11 फरवरी को उज्जैन जिले के खाचरौद तहसील मुख्यालय में तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अन्तर्गत एक करोड़ 64 लाख रुपये की लागत से निर्मित नवीन आईटीआई भवन का लोकार्पण किया। साथ ही दो करोड़ दो लाख रुपये की लागत से बालक एवं कन्या छात्रावास भवन का विधिवत भूमि पूजन किया। लोकार्पण एवं भूमि पूजन कार्यक्रम के अवसर पर तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री बाला बच्चन ने उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए कहा कि निवेशकों के द्वारा प्रदेश में करोड़ों रुपये के निवेश शुरू हो चुका है। इनमें प्रदेश के 70 प्रतिशत बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। नवनिर्मित आईटीआई भवन खाचरौद में दो व्यवसाय मैकेनिक डीजल इंजन एवं हिन्दी स्टेनोग्राफी इसी सत्र अगस्त माह से प्रारम्भ करने की सैद्धान्तिक स्वीकृति प्रदान की गई। उन्होंने क्षेत्रवासियों को नवीन आईटीआई भवन के बनने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि क्षेत्र के विद्यार्थी ट्रेडों में प्रशिक्षण प्राप्त कर रोजगार प्राप्त कर अपना भविष्य उज्ज्वल बनायेंगे।
 तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री श्री बाला बच्चन ने क्षेत्रीय विधायक श्री दिलीपसिंह गुर्जर की पॉलीटेक्निक महाविद्यालय नागदा एवं आईटीआई भवन खोलने की मांग पर राज्य शासन स्तर पर विचार करने की बात कही। उन्होंने उपस्थित ग्रामीणों से कहा कि क्षेत्र के विधायक श्री गुर्जर के मन में क्षेत्र के विकास करने की हरदम तड़प रहती है और वह दमदारी के साथ विधानसभा में विकास की बात कर क्षेत्र में विकास करवाते हैं। वे बधाई के पात्र हैं। श्री बच्चन ने कहा कि सरकार ने जो जनता को वचन दिया था, उसको निरन्तर पूरा किया जा रहा है। शिक्षा में गुणवत्ता में आई गिरावट को सरकार दूर कर रही है। विद्यार्थियों के द्वारा विभिन्न प्रतियोगिताओं को फेस करने के लिये भी कदम उठाये जा रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ निरन्तर प्रदेशवासियों के लिये अच्छा काम कर रहे हैं और हाल ही में उनके द्वारा इन्दौर में निवेशकों को आमंत्रित किया था और निवेश के लिये निवेशकों ने सहमति दी थी और कई निवेशकों के द्वारा करोड़ों रुपये के निवेश करना भी प्रारम्भ कर दिया है। इन निवेशों में प्रदेश के लगभग 70 प्रतिशत बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास राज्य सरकार द्वारा किया जायेगा। इससे प्रदेश में बेरोजगारी दूर होगी। श्री बाला बच्चन ने राज्य सरकार के द्वारा किये जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि बिजली उपभोक्ताओं को सौ रुपये में सौ यूनिट बिजली उपलब्ध कराई जा रही है। मुख्यमंत्री कन्यादान की राशि में वृद्धि की जाकर 51 हजार रुपये की गई है। किसानों के कृषि ऋण माफी दो चरणों में पूरी की जा चुकी है और तीसरे चरण में ऋण माफी का कार्य प्रारम्भ हो चुका है।
 तकनीकी शिक्षा व कौशल विकास मंत्री श्री बाला बच्चन ने कहा कि प्रदेश में ‘शुद्ध के लिये युद्ध अभियान’ जारी रहेगा। हर हालत में खाद्य सामग्री में किसी प्रकार की मिलावट न हो, इस पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। मानव हित के लिये खाद्य सामग्री में मिलावट करने वालों के विरूद्ध निरन्तर कार्यवाही सरकार के द्वारा की जायेगी। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में आम व्यक्तियों की सुरक्षा के लिये आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों से सख्ती से निपटा जायेगा। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने जिस तरह छिंदवाड़ा जिले को विकास के मॉडल के रूप में विकसित किया है, उसी तर्ज पर प्रदेश में भी कार्य किया जा रहा है। सरकार ने जो जनता से वादे किये हैं, शेष रहे वचनों को जल्द पूरा किया जायेगा।
 कार्यक्रम के प्रारम्भ में क्षेत्रीय विधायक श्री दिलीपसिंह गुर्जर ने कहा कि खाचरौद में आईटीआई भवन बनने एवं उसमें दो और नवीन ट्रेड प्रारम्भ होने से क्षेत्र के विद्यार्थियों का भविष्य उज्जवल होगा। सरकार रोजगार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास पर अधिक ध्यान दिया जा रहा है, ताकि बेरोजगार युवाओं को भविष्य में रोजगार की प्राप्ति हो और बेरोजगारी मिटे। श्री गुर्जर ने क्षेत्र में विभिन्न प्रकार की मांग रखी, जिनमें मंत्री ने कई मांगों को मान्य कर शासन स्तर से कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों ने नवीन आईटीआई भवन का फीता काटकर लोकार्पण किया। तत्पश्चात आईटीआई भवन के पीछे बालक एवं कन्या छात्रावास का भूमि पूजन किया।
कार्यक्रम के पूर्व तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के संयुक्त संचालक श्री सुनील चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था खाचरौद के पुराना भवन ट्राइसेम योजना के अन्तर्गत मिनी आईटीआई के रूप में निर्मित किया था। इस भवन में सर्वप्रथम फीटर ट्रेड में प्रशिक्षण प्रारम्भ किया गया था। इसके बाद कम्प्यूअर ऑपरेटर एवं प्रोग्रामिंग असिस्टेंट, विद्युतकार तथा वेल्डर व्यवसाय प्रारम्भ किया गया था। सभी व्यवसायों का एनसीवीटी मापदण्डों के अनुसार संबद्धीकरण वर्ष 2019 में कराया जा चुका है। विभाग की योजना अनुसार संस्था में छह व्यवसाय संचालित किये जाने हैं, इसलिये आवश्यकता अनुसार नवीन भवन का निर्माण तीन व्यवासाय हेतु किया गया। नवीन आईटीआई भवन में तीन वर्कशाप, तीन थ्योरी कक्ष, एक आईटी लेब, स्टाफ रूम, लाइब्रेरी, ड्राइंग हॉल एवं शौचालय का निर्माण किया गया है। इस नवीन भवन में सैद्धान्तिक रूप से मंत्री श्री बाला बच्चन ने दो व्यवसाय और प्रारम्भ करने की स्वीकृति प्रदान की गई है। वर्तमान में संस्था में चार व्यवसाय में 168 सीटें संचालित हैं। नवीन सत्र से दो व्यवसायों में 44 इस प्रकार अब संस्थान में 212 सीटों पर प्रशिक्षण प्रारम्भ किया जायेगा।
इस अवसर पर सर्वश्री सुबोध स्वामी, बाबूलाल गुर्जर, अनोखीलाल सोलंकी, गोविन्द भरावा, विजेन्द्रसिंह गुर्जर, राधे जायसवाल, संतोष बरखेड़ावाला, मोहनलाल ठन्ना, विजारत अली हाशमी, अजीज पेन्टर, फिरोज मंसूरी, अशोक भाटी, राधेश्याम बंबोरिया आदि जनप्रतिनिधि, ग्रामीणजन, पत्रकार आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्री अनोखीलाल सोलंकी ने किया और अन्त में आभार श्री सुबोध स्वामी ने प्रकट किया।