ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
होली एवं रंग पंचमी का त्यौहार शान्ति एवं सौहार्द्र से मनाया जाये
March 4, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

उज्जैन। जिला स्तरीय शान्ति समिति की बैठक कलेक्टर श्री शशांक मिश्र की अध्यक्षता में आज पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित की गई। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र, पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर शान्ति समिति के सदस्यों द्वारा आमजन से अपील की गई है कि वे होली एवं रंग पंचमी के त्यौहार शान्ति एवं सौहार्द्र से मनायें तथा केमिकल रंगों की बजाय प्राकृतिक रंगों से सूखी होली खेलें। सूखी होली खेलने का एक और लाभ बताते हुए कलेक्टर श्री मिश्र ने कहा है कि इससे कोरोना वायरस के संक्रमण से भी आमजन की सुरक्षा होगी। यद्यपि उज्जैन जिले में कोरोना वायरस का कोई प्रकरण सामने नहीं आया है, फिर भी सावधानी के बतौर पानी व रंगों के साथ होली खेलने से बचना चाहिये, क्योंकि कोरोना वायरस के संक्रमण एवं सामान्य सर्दी-जुकाम के संक्रमण में प्रारम्भिक तौर पर कोई अन्तर नहीं किया जा सकता, इसलिये एहतियात बरतना आवश्यक है। कलेक्टर ने कहा कि होली एवं रंग पंचमी के अलावा भूतड़ी अमावस्या एवं महिलाओं से सम्बन्धित आने वाले गणगौर व शीतला सप्तमी पर्वों पर सुरक्षा एवं स्वच्छता की व्यवस्था की जायेगी।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर ने कहा कि जिला स्तरीय शान्ति समिति के अलावा थाना स्तर पर भी शान्ति समिति की बैठक आयोजित होगी। उनमें भी समिति के सदस्य एवं वरिष्ठ अधिकारी भाग लेकर जिला स्तर पर लिये गये निर्णयों से अवगत करा सकते हैं। उन्होंने केमिकल रंगों के उपयोग न करने के सम्बन्ध में जन-जागृति उत्पन्न करने तथा केमिकल रंगों से होने वाली हानि का व्यापक प्रचार-प्रसार करने की आवश्यकता बताई। पुलिस अधीक्षक ने सभी त्यौहारों पर, विशेषकर महिलाओं से सम्बन्धित त्यौहारों पर सुरक्षा व्यवस्था लगाने का आश्वासन दिया।
उपयोगी सुझाव आये
शान्ति समिति की बैठक में विभिन्न सदस्यों द्वारा उपयोगी सुझाव दिये गये। शहर अध्यक्ष श्री महेश सोनी ने बताया कि रंग पंचमी के अवसर पर विभिन्न समाजों की गैर निकलती है। यह गैर पुराने शहर में अधिक निकलती है, इसलिये शासन-प्रशासन को अलर्ट रहना होगा। श्री द्वारकाधीश चौधरी ने केमिकल रंगों से होली खेलने पर रोक लगाने तथा हरे वृक्ष नहीं काटने का आग्रह किया। श्री आजम शेख ने कहा कि उज्जैन परम्पराओं का शहर है। उन्होंने शान्ति व सौहार्द्र बनाकर सभी त्यौहार मनाने की बात कही। श्री आत्माराम पटेल ने चिन्तामन जत्रा पर व्यवस्थाएं करने का आग्रह किया। श्री सुनील जैन ने होली एवं धुलेंडी पर्व पर आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था के लिये पुलिस बल लगाने एवं गैर के दौरान असामाजिक तत्वों पर नियंत्रण रखने की बात कही। श्री ब्रजेश पाल ने भैरवगढ़ मन्दिर पर विशेष व्यवस्था लगाने, श्री महेन्द्र गादिया ने होली एवं रंग पंचमी के दिन छत्रीचौक पर एम्बुलेंस रखने एवं चिकित्सा व्यवस्था करने तथा महावीर जयन्ती पर व्यवस्थाएं करने का आग्रह किया। श्री अशोक भाटी ने त्यौहारों के अवसर पर गली-मोहल्लों की सड़कों को खाली रखने का आग्रह किया। श्री अरूण रोचवानी ने असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखने के लिये विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने, श्री शाकिर हुसैन ने भूतड़ी अमावस्या पर कुण्डों की साफ-सफाई एवं स्नान हेतु स्वच्छ जल की व्यवस्था करने की मांग रखी, श्री रूम पमनानी ने गणगौर तीज पर क्षीर सागर तालाब की साफ-सफाई एवं सुरक्षा व्यवस्था करने की मांग रखी। श्री प्रदीप गुरू ने गैर निकलने के दौरान प्रकाश व्यवस्था करने का आग्रह किया। बैठक में अपर कलेक्टर श्री क्षितिज सिंघल, एडीएम श्री आरपी तिवारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री प्रमोद सोनकर, श्री रूपेश द्विवेदी, श्री अमरेन्द्रसिंह, शान्ति समिति के सदस्य सर्वश्री डॉ.रामेश्वरदास, शहर काजी खलीकुर्रहमान विवेक सोनी, निरूक्त भार्गव, जितेन्द्र गोयल, श्री गोविन्द गुरू, सय्यद इकबाल अहमद, श्री धर्मेन्द्र खुबचंदानी, श्री आशीष पुजारी, पं.राजेश शर्मा सहित गणमान्य सदस्य एवं अधिकारीगण मौजूद थे