ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
कलेक्टर ने सर्वे कार्य से जुड़े ढाई सौ से अधिक कार्यकर्ताओं का जोश बढ़ाया
May 7, 2020 • EDITOR • उज्जैन शहर

उज्जैन। कलेक्टर सिंह ने कहा है कि आज शाम से कंटेंटमेंट क्षेत्र में आशा कार्यकर्ता, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी ,डॉक्टर्स एवं महिला एवं बाल विकास की टीम घर-घर जाकर सर्वे कर कोरोनावायरस वायरस से पीड़ित व्यक्तियों की पहचान करेगी। आवश्यकता होने पर उनकी जांच की जाएगी एवं उपचार के लिए अस्पताल पंहुचाया जाएगा ।उन्होंने कहा कि यह कोरोना के विरुद्ध एक तरह से सर्जिकल स्ट्राइक ही है , जिसके माध्यम से हम छुपे बैठे कोरोना नाम के दुश्मन को समाप्त कर पाएंगे .

कलेक्टर ने क्षीर सागर स्टेडियम के कुश्ती एरीना में एकत्रित ढाई सौ से अधिक आशा कार्यकर्ता, शिक्षक, चिकित्सा कर्मी ,आंगनवाड़ी , महिला एवं बाल विकास के कर्मचारियों मैं जोश भरते हुए कहा कि वे सर्वे कार्य के दौरान किसी तरह की चिंता ना करें. जहां जहां जरूरत होगी वहां वहां वे अपने कलेक्टर को साथ खड़ा पाएंगे ।कलेक्टर ने कहा कि संकट के समय में यदि आप किसी एक व्यक्ति की भी जान बचाते हैं तो यह इससे बड़ा पुण्य कुछ नहीं है ।उन्होंने कहा कि कंटेंटमेंट क्षेत्र के ऐसे व्यक्तियों से मिलना जो अंदर ही अंदर डरे हैं ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं है ,एक कठिन कार्य है। किंतु यह असंभव भी नहीं है । कलेक्टर ने कहा कि ऐसे लोगो से बार-बार मिलेंगे तो परस्पर विश्वास का पुल निर्मित होगा और इसी विश्वास से हम उनको घरों से निकालकर अस्पताल तक पहुंचा पाएंगे , उनकी जान बचा पाएंगे ।

मुस्लिम क्षेत्र में मुस्लिम समाज के 25 निजी डॉक्टर निशुल्क सेवा देंगे

कलेक्टर ने कहा कि समाज सेवा करने के लिए मुस्लिम एवं बोहरा समाज के 25 डॉक्टर कंटेन्मेंट क्षेत्र में सर्वेक्षण उपचार के अभियान में शामिल हो रहे हैं। वे घर-घर जाकर सर्वे कार्य में सहायता करेंगे । उन्होंने इन डॉक्टर्स की सराहना करते हुए कहा कि यह वे निजी प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टर हैं जो शासन से शुल्क के रूप में एक रुपया भी लेना नहीं चाहते हैं ।किंतु समाज के लिए कुछ कर दिखाना चाहते हैं।
सर्वे टीम को सुरक्षा साधन उपलब्ध करवाए जाएंगे

कलेक्टर ने सर्वे टीम को आश्वस्त किया कि उनकी हर उचित समस्या का समाधान किया जाएगा। उन्हें सुरक्षा के लिए मास्क , सैनिटाइजर आदि उपलब्ध कराए जाएंगे। शर्त यह है कि बिना कोई बहाना बनाएं वे समर्पण भाव से इस सेवा कार्य में जुट जाए। कलेक्टर ने साथ ही चेतावनी देते हुए कहा कि यदि किसी व्यक्ति ने जानबूझकर कार्य में लापरवाही की या कार्य नहीं किया तो उसके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी .बैठक में विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉक्टर सुधीर सोनी ने सभी कार्यकर्ताओं ,कर्मचारी, अधिकारियों को बताया कि संक्रमण क्षेत्र में कार्य करने के दौरान किस तरह से कोरोना से स्वयं का बचाव करना है। उन्होंने बताया कि कोरोनावायरस का संक्रमण किस तरह से फैलता है और इसके लक्षण क्या-क्या है। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अंकित अस्थाना ,अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी सहित कंटेंटमेंट क्षेत्र के सभी मजिस्ट्रेट, एसडीएम, स्वास्थ्य कार्यकर्ता ,महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी मौजूद थे ।