ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
कोरोना वायरस के उपचार हेतु आइसोलेशन वार्ड बनाया गया
February 27, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

 
उज्जैन। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.अनुसुईया गवली सिन्हा ने जानकारी देते हुए बताया गया कि आज 27 फरवरी को स्वास्थ्य आयुक्त भोपाल द्वारा आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना वायरस के संबंध में दिए गए दिशा निर्देशों के परिपालन में सिविल हास्पिटल माधवनगर में कोरोना वायरस से प्रभावित संदेहास्पद प्रकरणों के उचित उपचार के लिए आईसोलेशन वार्ड बनाया है। इसके लिए डॉ.एच.पी.सोनानिया को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा माधवनगर अस्पताल में कोरोना वायरस के संबंध में समस्त स्टाफ की मॉकड्रिल (पूर्वाभ्यास) की गई, जिससे आकस्मिक रूप से यदि कोई रोगी पाया जाता है तो उसे किस तरह से उपचार किया जाए एवं क्या-क्या सावधानियां रखी जाये, के बारे में बताया गया। सीएमएचओ ने कहा है कि विभाग को रोगी के प्रति संवेदशील रहना है और आवश्यक सावधानियां बतरते हुए रोगी को उचित उपचार प्रदान करना है। लोगों को रोग से बचाव आवश्यक जानकारी स्टाफ द्वारा समय-समय पर प्रदान करना है। कोरोना वायरस के संक्रमण से घबराने कि आवश्यकता नहीं है। सावधानी के साथ उसके बचाव की जानकारी आवश्यक है। कोरोना वायरस परिवार के वायरस से सामान्य सर्दी खासी एमईआरएस व एसएआरएस जैसी गंभीर बीमारियां होती है।
खांसी, गले में खराश, बुखार, सांस लेने में तकलीफ के साथ ही फेफड़ों में संक्रमण होता है। सर्दी जुकाम से पीड़ित व्यक्ति भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में न जाएं एवं चिकित्सक की सलाह लेकर उपचार लें। दिन में कई बार हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं, खांसते एवं छींकते समय मास्क एवं रूमाल का उपयोग करें। सी फूड एवं कच्चा मांस खाने से बचें।