ALL उज्जैन शहर राज्य स्वास्थ्य देश विदेश मनोरंजन
उमंग और उल्लास के साथ सम्पन्न होगा दिव्यांगजनों का विवाह समारोह,
February 27, 2020 • अपूर्व देवड़ा • उज्जैन शहर

उज्जैन। सिंहस्थ मेला कार्यालय के सभाकक्ष में गुरूवार को अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी द्वारा आगामी 11 मार्च और 12 मार्च को होने वाले दिव्यांगजनों के विवाह समारोह की तैयारियों हेतु बैठक आयोजित की गई। बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारीगण तथा समस्त आनन्दक और समाजसेवी मौजूद थे।
 अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी द्वारा जानकारी दी गई कि बुधवार 11 मार्च को दिव्यांगजनों के विवाह समारोह के अन्तर्गत हल्दी, मेंहदी और महिला संगीत कार्यक्रम गोधूली बेला में आयोजित किया जायेगा। इसके पश्चात गुरूवार 12 मार्च को मुख्य विवाह कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। कार्यक्रम स्थल मक्सी रोड स्थित जय गुरूदेव आश्रम परिसर होगा। सभी कार्यक्रम यहीं आयोजित किये जायेंगे। उल्लेखनीय है कि 12 मार्च को दिव्यांगजनों के वैवाहिक कार्यक्रम में विभिन्न धर्मों के दिव्यांगजनों का विवाह/निकाह कार्यक्रम वृहद स्तर पर आयोजित किया जायेगा।
 जिला प्रशासन द्वारा इस बार 121 दिव्यांग जोड़ों का विवाह सम्पन्न कराकर यह आयोजन वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल किये जाने की तैयारी है। अपर कलेक्टर श्रीमती मुखर्जी ने समस्त आनन्दकों और समाजसेवियों से पूरे उत्साह के साथ बढ़-चढ़कर वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने और अपनी सक्रिय सहभागिता करने की अपील की है।
 दिव्यांगजनों के विवाह समारोह की तैयारियों के लिये जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न समितियां बनाई गई हैं। इनमें भोजन समिति, दस्तावेजीकरण समिति, मेंहदी और हल्दी समिति, संगीत समिति, यातायात व पार्किंग समितियां बनाई गई है, जो सम्पूर्ण व्यवस्थाओं को देखेंगी। दो दिवसीय समारोह में भोजन की पूरी व्यवस्था जय गुरूदेव आश्रम द्वारा की जायेगी। जानकारी दी गई कि इन दो दिनों में लगभग आठ हजार लोगों के आने की संभावना है। इनमें दिव्यांगजनों के रिश्तेदार और विभिन्न व्यवस्थाओं में लगे शासकीय अधिकारी-कर्मचारी, आनन्दक और समाजसेवी सम्मिलित होंगे।
 अपर कलेक्टर द्वारा स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये गये कि इन दो दिनों में निरन्तर मेडिकल टीम की तैनाती की जाये। बिजली से सम्बन्धित कार्य हेतु एमपीईबी, पेयजल व्यवस्था हेतु पीएचई, बस और यातायात व्यवस्था हेतु यातायात पुलिस, सुरक्षा व्यवस्था हेतु पुलिस, शौचालय और अन्य साफ-सफाई सम्बन्धी व्यवस्था हेतु नगर निगम तथा दिव्यांग युवक-युवतियों को विवाह स्थल पर लाने और ले जाने की व्यवस्था तथा विवाह पोर्टल पर उनके पंजीयन का कार्य समस्त जनपद पंचायतों को सौंपा गया है।
अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी ने विभिन्न समाज के लोगों से अपील की है कि वे अपने-अपने समाज के अधिक से अधिक दिव्यांग जोड़ों को तैयार कर वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल करें। बैठक में विवाह कार्यक्रम के अन्तर्गत मेहमानों के रूकने की व्यवस्था, टेन्ट, स्टेज, फ्लावर डेकोरेशन, साउण्ड, भोजन, फोटो-वीडियो, पुजारी/मौलवी, निमंत्रण कार्ड प्रकाशन, विवाह पूजन सामग्री, ऑर्केस्ट्रा, मेकअप टीम, मेंहदी, हल्दी सामग्री, बैण्ड, बग्घी एवं ई-रिक्शा, अतिथियों के स्वागत, फ्लेक्स और फ्रेमिंग तथा दिव्यांगजनों को भेंटस्वरूप दिये जाने वाली सामग्री की व्यवस्था करने के लिये विभिन्न आनन्दकों और समाजसेवी संस्थाओं द्वारा रूचि दिखाई गई तथा आश्वस्त किया गया।
बैठक में संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण श्री सीएल पंथारी, सीएमएचओ डॉ.अनुसुईया गवली सिन्हा, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री एसए सिद्धिकी, नगर निगम के श्री सुबोध जैन तथा विभिन्न विभागों के अधिकारीगण, आनन्दक श्री सुधीरभाई गोयल, श्री सुदर्शन अयाचित, श्री केशरसिंह पटेल, श्री नासीर बेलिम, श्री जावेद डिप्टी, श्री हृदयपालसिंह ठाकुर, श्री बीडी शर्मा, श्री अरविन्द तिवारी, श्री शमीम अहमद खान, श्री प्रवीण जोशी एवं अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।